प्रणाम से मिलते हैं कीर्ति, आयु, बल हाथ मिलाने से फैलते हैं संक्रमण

१. अभिवादनशीलस्य नित्यं वृद्धोंपसेविन: | चत्वारि तस्य वर्धन्ते आयुर्विद्या यशो बलम ||         (मनुस्मृति २|१२१) अर्थात्  नित्य वृद्ध…